गर्मी में गुलकंद खाने के हैं ये बड़े फायदे

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है अरुन दोस्तों गर्मी के मौसम में लोगों के खानपान पर असर पड़ता है।

इस मौसम लोग कम से कम खाना पसंद करते हैं और वही खाना पसंद करते हैं जो उनके शरीर को

गर्मी से राहत दिलाकर ठंडक पहुंचाए ऐसे में गुलकंद को अपने में खानपान में शामिल कर सकते हैं।

गुलकंद खाने से होने वाले  फायदेः

गुलाब की पंखुड़ियों से बनने वाला गुलकंद स्‍वादिष्‍ट होने के साथ सेहत के लिए भी अच्‍छा होता है। गुलकंद

आपके शरीर को ठंडा बनाए रखने में भी मदद करता है। गुलकंद बच्चों से लेकर बड़ों तक की समस्याओं

को दूर करता है। आइए जानते हैं गुलकंद के सेवन करने से कितने फायदे होते हैं।

1- पेट की होने वाली समस्याओं से राहत

गर्मी के मौसम में पेट में कई समस्याएं होने लगती हैं। ऐसे में गुलकंद का सेवन से आप इन समस्याओं से

छुटकारा पा सकते हैं। रोजाना गुलकंद के खाने से भूख तो बढ़ती ही है, साथ में पाचन क्रिया सही रहती है।

इसे भी पढ़े :-पालक पनीर बनाने की विधि – Palak Paneer Recipe in Hindi

2- मुंह मे होने वाले छालों में आराम

अक्सर देखा जाता है कि पेट की गर्मी से मुंह में छाले पड़ जाते हैं। गुलकंद के सेवन से इनमें फायदा होता है।

इसके अलावा गुलकंद के खाने से त्वचा से जुड़ी हुईं कई समस्याओं में फायदा होता है।

3- गर्मी मे होने वाले पसीने से छुटाकारा 

गर्मी में शरीर में खूब पसीना आता है और इसके कारण बदबू आती है। गुलकंद पसीना आने की समस्या में

भी लाभकारी होता है। इसके अलावा गुलकंद शरीर से विषैले पदार्थों को निकलाने मे मदद करता है।

4- आंखों में फायदा

गुलकंद खाना आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। गुलकंद के सेवन से आंखों में जलन से लेकर मोतियाबिंद

तक की समस्यों में असरकारक होता है। गुलकंद आखों को ठंडक पहुंचाने का काम करता है।

5-  छोटे बच्चों के लिए फायदेमंद 

गुलकंद बच्चों की सेहत के लिए बहुत असरकारक होता है। गर्मी में बच्चों को पेट की बीमारी से गुलकंद बचाता है

। इसके साथ ही इस मौसम में नाक से खून निकलने की समस्या होती है। इसमें भी गुलकंद फायदा करता है।

6- कई  फायदे

गुलकंद के सेवन से थकान, कमजोरी, शारीरिक दर्द, तनाव जैसी अनेक समस्याओं को दूर  करता है। इसके

अलावा गुलकंद खाना याददास्त को बढ़ाने में सहायक होता है। वहीं, गर्मी में लू से बचाने का काम गुलकंद करता है।

 दोस्तों ऐसी ही स्मार्ट टिप्स के लिए ताज़ा  अपडेट  www.sarkaridna.com ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक  पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here