नमस्कार दोस्तों ! झारखण्ड में राशन कार्ड बनाने के लिए लंबित आवेदनों का सात साल का इंतजार

खत्म होगा। अब राशन कार्ड बनाने की काम शुरू कर दिया गया है। कार्ड बनाने के लिए अभी तक

8.45 लाख से अधिक आवेदन खाद्य-आपूर्ति विभाग के पास लंबित हैं। इन आवेदकों में बीपीएल और

एपीएल दोनों वर्ग के लोग शामिल हैं। इन लाभुकों को राशन उपलब्ध कराने की दिशा में विभाग ने पहल

करते हुए सभी जिलों के डीएसओ को आवेदकों की जांच कर कार्ड बनाने की दिशा में काम करने को

कहा है। नया कार्ड बनाने की प्रक्रिया से पहले हर जिले में गलत कार्ड धारियों को चिह्नित कर उनके

कार्ड की जांच की जानी है।

यह भी पढ़ें :प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ पाने के लिए आधार कार्ड लिंक करने की अंतिम तारीख 30 नवम्बर

कई जिलो में शिविर लगाकर बनाये जायेंगे राशन कार्ड 

गलत पाए जाने के बाद उनका कार्ड रद्द भी किया जा सकता है। विभाग ने बताया कि जिन जिलों में कार्ड

रद्द होंगे या जो अपना राशन कार्ड सरेंडर करेगा, उनकी जगह नए राशन कार्ड बनाए जाएंगे। फिलहाल कई जिलों

में शिविर लगाकर ग्राम पंचायत द्वारा बताए गए जरूरतमंदों का कार्ड बनाया जाता है। आवेदकों द्वारा दिए गए

आवेदन की जांच एसडीओ स्तर से करते हुए देखा जाएगा कि जो आवेदक हैं, वे राशन कार्ड पाने की अर्हता

रखते हैं या नहीं। इसकी रिपोर्ट विभाग को दी जाएगी। उसके बाद ही राशन कार्ड बनने की प्रक्रिया शुरू होगी।

यह भी पढ़ेंनजदीकी आधार केंद्र के बारे कैसे पता लागए /How to Find Aadhaar Enrolment Centre :

लंबित आवेदकों को खाद्य सामग्री देने का किया था वादा 

राज्य सरकार ने केंद्र को लंबित 8.45 लाख राशन कार्डधारियों के बारे में पहले ही बताते हुए आग्रह किया था

इन्हें भी खाद्य सामग्री मिलनी चाहिए। मंत्री सरयू राय ने केंद्र सरकार को जानकारी दी थी कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा

कानून-2013 के मुताबिक 2011 की जनसंख्या के आधार पर राज्य में अधिकतम ढाई करोड़ से अधिक

लोगों को राशन दिया जा सकता है। वर्तमान दशक में जनसंख्या वृद्धि की दर 16.40 प्रतिशत के पास है।

कुल 8,45,984 राशन कार्ड के आवेदन लंबित हैं। उन्होंने बताया कि जनसंख्या के अनुसार कार्ड बनाने

की व्यवस्था होगी तो योग्य लाभुकों को कार्ड मिल सकता है

दोस्तों ऐसी ही ताज़ा न्यूज़ अपडेट के लिए बने रहे sarkaridna.com के साथ और अधिक  जानकरी के

लिएआप हमारे फेसबुक पेज को भी कर सकते है हमारे फेसबुक पेज को फ़ॉलो करने के लिए क्लिक करे 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here