PradhanMantri Gramin Ujala Yojana 2021 :पीएम उजाला योजना

-

Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2021

दोस्तों नए साल पर ग्रामीण इलाकों में रह रहे ग्रामीण परिवारों के लिए एक खुशखबरी है।मोदी सरकार जनवरी 2021 से ग्रामीण इलाकों में रह रहें लोगों को रियायती दरों पर एलईडी बल्ब मुहैया कराने के लिए एक नई ग्रामीण उजाला योजना की शुरआत की है|Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana (प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना) के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों के परिवार को 10 रूपये में एलईडी बल्ब वितरित किए जाएंगे।

Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana

 

Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana के अंतर्गत प्रत्येक परिवार को तीन से चार एलईडी बल्ब प्रदान किए जाएंगे। प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना 2021 को पब्लिक सेक्टर की एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड द्वारा पहले चरण में इसकी शुरआत वाराणसी समेत देश के पांच शहरों के ग्रामीण इलाकों में आरंभ किया जाएगा।

पीएम ग्रामीण उजाला योजना 2021 के लिए आवश्यक दस्तावेज़ 

Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana का लाभ लेने के लिए आपको कुछ जरुरी दस्तावेज़ देने होंगे जो निम्न है –

  1. आधार कार्ड कॉपी
  2. पेन कार्ड की कॉपी
  3. वोटर कार्ड की कॉपी
  4. बिजली बिल की कॉपी
  5. ग्राहक नंबर id पर

कितने वाट का मिलेगा बल्ब और कैसा होगा ?

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के तहत हर एक परिवार को 9 wat का LED बल्ब मात्र 10 रूपये में दिया जायेगा और साथ में इसकी 2 साल की वारंटी भी होगी यहा बल्ब आपको Ujala कंपनी का दिया जायेगा |

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजला योजना

यह भी पढ़े – Kisano को मुफ्त Kisan Credit Card:PM किसान क्रेडिट कार्ड

कितने साल होगी बल्ब की वारंटी और उपभोक्ता को कैसे मिलेगी 

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के तहत मिलने वाले बल्ब की वारंटी 2 साल की होती अगर 2 साल के अंदर आपके बल्ब में कोई गड़बड़ी होती है| तो कंपनी के द्वारा आपको दूसरा नया बल्ब दिया जाता है,और साथ ही में अगर 2 साल से ज्यादा हो गया है, तो आप इसे अपने नजदीकी किसी भी इलेक्ट्रॉनिक की दुकान से सही करा सकते है |

आपको ऑनलाइन कैसे शिकायत करनी है ख़राब बल्ब के लिए –

  • अगर आप उजाला योजना के तहत बल्ब लिया है. आपका बल्ब ख़राब हो गया है, तो इसके लिए आप ऑनलाइन ही शिकायत दर्ज करा सकते है |

ऑनलाइन शिकायत करने के लिए आपको सबसे पहले आपको  http://support.eeslindia.org/ के लिंक पर क्लिक करे|

  • इसके बाद मांगी गई सभी जानकारी सही-सही भरकर save के आप्शन पर क्लिक करे अब आपकी शिकायत दर्ज हो गई है |
  • इतना करने के बाद कंपनी के तरफ से आपको नया बल्ब भेजा जायेगा |

अप्रैल तक इस योजना को पूरे भारत में लागू कर दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना
10 रुपये में यहां के लोगों को मिलेगा LED बल्ब, चेक करें-

जिसके लिए उपभोक्ताओं को अपने नजदीकी पॉवर हाउस या फिर बिजली विभाग के कार्यलय से पारपत कर सकते है|

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना 2021: फ्री एलईडी बल्ब पंजीकरण

योजना को अगले तीन महीने यानी अप्रैल तक पूरे देश में लागू करने की योजना है. इस योजना के तहत 10 रुपये प्रति एलईडी की दर से 15 से 20 करोड़ परिवार को 3 से 4 बल्ब दिए जाने का लक्ष्य है. उज्जवला योजना की अपार सफलता के बाद सरकार अगले महीने से पीएम मोदी संसदीय क्षेत्र वाराणसी समेत देश के पांच बड़े शहरों के ग्रामीण इलाकों से ग्रामीण उजाला योजना की शुरुआत करने जा रही है. यह योजना सार्वजनिक क्षेत्र की एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लि. (ईईएसएल) शुरू करेगी. ऊर्जा दक्षता को गांवों में ले जाने और बिजली बिल में कमी करके गावों में रहने वाले निवासियों के लिए बचत बढ़ाने के इरादे से यह योजना शुरू की जा रही है.

योजना के तहत हो रहा कार्य :

सस्ते रेट पर एलईडी लाइट देने के योजना है। भारत सरकार ने एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड से टाईअप किया है। 250 से 300 रुपए रेट वाली 9 वाट की एलईडी लाइट को केवल 75 रुपए में दिया जा रहा है। उपभोक्ता अपने बिल की कॉपी के साथ आईडी प्रूफ ले जाकर 10 एलईडी तक सस्ते रेट में ले सकता है।

ऐसे होगा फायदा:

बिजली निगम के जेई प्रवीण ने बताया कि एलईडी बल्ब 15 वाट सीएफएल के मुकाबले में दो गुना रोशनी देता है।जबकि बिजली खपत इससे आधी होती है। अगर हर घर में दो एलईडी बल्ब का प्रयोग भी किया जाए तो हर दिन जिले वासियों की जेब से निकलने वाला लाखों रुपया बचाया जा सकता है।

उजाला योजना के लाभ:

1. 3,99,000 मिलियन किलोवाट-घंटे की ऊर्जा बचत होगी.
2. हर साल लगभग 15,960 करोड़ रुपये बच सकेंगे.
3. हर वर्ष कम से कम 2.80 करोड़ टन कार्बन उत्सर्जन रुकेगा.
4. देश के ग्रामीण इलाकों में 24 घंटे बिजली का सपना होगा सच.
5. बचार्इ गर्इ बिजली को उपेक्षित क्षेत्र में भेजा जा रहा है.

Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana Apply

एलईडी (LED) और सीएफएल (CFL) बल्बों में क्या अंतर हैं

  • एलईडी (LED) बल्ब सीएफएल की तुलना में कम बिजली खपत करता है.
  • सीएफएल(CFL) से एक वर्ष में करीबन 80% की ऊर्जा लागत होती है.
  • एक एलईडी (LED) बल्ब की लाइफ आमतौर पर 50000 घंटे या अधिक होती है|
  • जबकि सीएफएल (CFL) बल्ब की 8000 घंटे तक ही होती है.
  •  एलईडी (LED) बल्ब सीएफएल (CFL) की तुलना में महंगा होता है.
  •  सीएफएल (CFL) के मुकाबले उनके बीच प्राथमिक अंतर यह है |
  • कि एलईडी (LED) बल्ब टिकाऊ और लंबे समय तक चलता है. 

Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2021

  • एलईडी (LED) बल्ब का आकार आमतौर पर सीएफएल (CFL) बल्ब से छोटा होता है|
  • सीएफएल (CFL) बल्ब का ऊपरी भाग ग्लास अर्थात शीशे का बना होता है|
  • अगर यह फूट जाए तो 15 वाट के सीएफएल (CFL) बल्ब का ग्लास बदलवाना पड़ता है. लेकिन एलईडी (LED) बल्ब में ऐसी कोई बात नहीं होती है.
  • इनके सारे कॉम्पोनेन्ट इसके अंदर ही होते हैं |
  • बाहर सिर्फ एक गोल और मजबूत प्लास्टिक ही निकला रहता है,जो कि कभी फूटता नहीं है.
  • सबसे अनोखी बात यह कि अगर बाहर वाला हिस्सा एलईडी बल्ब का फूट भी जाए|
  • तब भी यह बल्ब काम करता है, क्योंकि प्लास्टिक को सिर्फ अन्दर के सामान को ढ़कने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news

APY योजना में पायें सालाना 1 लाख 20 हजार रुपये जानिए...

0
अटल पेंशन योजना (APY) न्यू अपडेट कभी-कभी लोग अपनी आप में व्यस्त रहते हैं, लेकिन वे इस बात पर हंसते हैं कि बुढ़ापा कैसे व्यतीत...

कन्या सुमंगला योजना के तहत लड़की को मिलते हैं 15 हजार...

0
Kanya Sumangala Yojana – यूपी कन्या सुमंगला योजना 2020 यूपी कन्या सुमंगला योजना | Apply Online, Application Form |Kanya Sumangala Yojana | UP Kanya Sumangala...

Must read

आयुष्मान भारत 2021 में नाम कैसे जोड़ें जाने पूरी प्रक्रिया :

देश के 10 करोड़ 74 लाख परिवारों को मुफ्त...

मोबाइल से कैसे देखे Ayushman Bharat Yojana List 2019 में अपना नाम

Ayushman Bharat Yojana List 2019 में एसे देखे अपना...

You might also likeRELATED
Recommended to you