Friday, January 21, 2022
HomeSarkari YojanaIncome Tax Return(ITR) सिर्फ 5 मिनट में फाइल करें, जानें पूरा प्रोसेस

Income Tax Return(ITR) सिर्फ 5 मिनट में फाइल करें, जानें पूरा प्रोसेस

Income Tax Return ।। how to file income tax return ।। online income tax return ।। income tax return e-filing portal ।। e-filing portal ।। ITR Form ।। How To Fill Online ITR ।। how to e-filing I.T.R 1 ।। e-filing 2.0 ।। form- 16 ।। form – 26 ।। Online Income Tax Return Filing ।।

Income Tax & Income Tax Return क्या है :

दोस्तों Income Tax Return (ITR) की बात करें तो इनकम टैक्स सरकार की आय का मुख्य स्तोत्र है ! और यह सरकार द्वारा देश के अन्दर तय सीमा से अधिक वेतन अथवा आय ! प्राप्त करने वाले वेतनभोगी एवं व्यवसायी वर्ग के ऊपर लगाया जाता है ! इसके अंतर्गत व्यापार और नौकरी पेशा लोग से उनकी आय के हिसाब से सरकार द्वारा टैक्स चार्ज किया जाता है ! जो पैसा सरकार के पास सरकारी कोष में जमा होता है !

जिस पैसे का इस्तेमाल सरकार देश एवं आम नागरिकों के विकास कार्यों में खर्च करती है ! शिक्षा स्वास्थ्य और सीमा सुरक्षा जैसी सभी मूल भूत सेवाओं पर यह पैसा खर्चा होता है ! जिससे कि नागरिकों को बेहतर आधारभूत सुविधाएं प्राप्त हो सकें और देश के अन्दर विकास कार्य हो सके ! 

यह भी पढ़ें – PAN Card Correction Online – नाम, जन्मतिथि के साथ फोटो और हस्ताक्षर ऐसे बदलें

What is Income Tax Return Filing :

बात करें अगर इनकम टैक्स रिटर्न की तो इनकम टैक्स रिटर्न आपके द्वारा आयकर का भुगतान करने के लिए की गयी प्रक्रिया है ! जिसमे कि अगर आपकी इनकम गवर्नमेंट के स्लैब के अनुसार है तो आप पहले से अगर कोई भी paisa आपका एडवांस में जमा है या फिर TDS के फॉर्म में जमा है तो उसे आप वापस भी ले सकते हैं ! प्रत्येक साल में एक बार आपको I.T.R फाइल करना होता है और I.T.R फॉर्म में आपको अपनी आय (Income) खर्च (Expences) निवेश (Investment) और कुल देनदारी (Liabilities) के बारे में बताना होता है !

इनकम टैक्स रिटर्न आपके वेतन अथवा आय का एक लिखित प्रारूप होता है ! जिसके माध्यम से आप सरकार को यह जानकारी देते है की आपके द्वारा उस वर्ष में कितनी आय अर्जित की गयी ! कुल कितने व्यावसायिक खर्चे किये गए ! नौकरी अथवा व्यवसाय के अंतर्गत आपके द्वारा कुल कितने निवेश किये गए साथ ही साथ आपकी कुल देनदारी का हिसाब भी इसके माध्यम से प्रस्तुत किया जाता है ! इसके अलावा सरकार द्वारा तय की गयी Tax Saving Schemes, में निवेश और Bill Reimbursement और एडवांस टैक्स चुकाने की जानकारी भी आपके द्वारा दी जाती है !

प्रत्येक वर्ष सरकार द्वारा इनकम टैक्स फाइल करने की एक तिथि निर्धारित की जाती है ! और अंतिम तिथि नजदीक आते ही आयकर रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या भी काफी ज्यादा बढ़ जाती है ! क्योंकी इसे फाइल करना सभी के लिए जरुरी होता है ! आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको इनकम टैक्स फाइल करने का पूरा तरीका बताने जा रहे हैं ! जिसके माध्यम से अब आप अपना इनकम टैक्स घर बैठे ही फाइल कर पायेंगे !

Tax Slab For Individual / HUF :

Existing Tax Regime New Tax Regime u/s 115BAC

Income Tax Slab

Income Tax Rate

Income Tax Slab

Income Tax Rate

Up to ₹ 2,50,000 Nil Up to ₹ 2,50,000 Nil
₹ 2,50,001 – ₹ 5,00,000 5% above ₹ 2,50,000 ₹ 2,50,001 – ₹ 5,00,000 5% above ₹ 2,50,000
₹ 5,00,001 – ₹ 10,00,000 ₹ 12,500 + 20% above ₹ 5,00,000 ₹ 5,00,001 – ₹ 7,50,000 ₹ 12,500 + 10% above ₹ 5,00,000
Above ₹ 10,00,000 ₹ 1,12,500 + 30% above ₹ 10,00,000 ₹ 7,50,001 – ₹ 10,00,000 ₹ 37,500 + 15% above ₹ 7,50,000
    ₹ 10,00,001 – ₹ 12,50,000 ₹ 75,000 + 20% above ₹ 10,00,000
    ₹ 12,50,001 – ₹ 15,00,000 ₹ 1,25,000 + 25% above ₹ 12,50,000
    Above ₹ 15,00,000 ₹ 1,87,500 + 30% above ₹ 15,00,000

Income Tax Return किसके लिए है जरुरी :

आयकर अधिनियम की के तहत income tax भरना उन सभी लोगों के लिए अनिवार्य कर दिया गया है जो की इसकी तय सीमा के अंतर्गत आते हैं ! आयकर अधिनियम के अनुसार वे सभी लोग जिनकी एक वित्तीय वर्ष में कुल आय 2.5 लाख से ज्यादा है उन सभी लोगों के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना अनिवार्य है ! आयकर विभाग द्वारा निम्न प्रकार के व्यक्तियों के लिए income tax भरना अनिवार्य कर दिया गया है !

Tax Slabs for Domestic Company for AY 2021-22

Company Conditions According To Applied  Session 

Income Tax Rate (excluding surcharge and cess)
Turnover or Gross Receipt in previous year 2018-19 not exceed ₹ 400 crores 25%
If opted for Section 115BA 25%
If opted for Section 115BAA 22%
If opted for Section 115BAB 15%
Any other Domestic Company 30%

Required Documents For Income Tax Return :

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए आपके पास अपनी आय व्यय निवेश नौकरी व्यवसाय और पहचान से सम्बंधित निम्नलिखित दस्तावेज होने चाहिए !

  • PAN Card
  • Bank Statment
  • Intrest Certificate Of Bank / Post office
  • Tax Saving Investment Certificate
  • Form-16  (Only For Salried Person)
  • Salery Slip
  • TDS Certificate
  • Form 26 AS

Income Tax Return e Filing Portal क्या है ?

टैक्स रिटर्न e Filling आयकर विभाग द्वारा आयकरदाताओं के लिए शुरू किया गया एक पोर्टल है ! जिसमें कि अब आप घर बैठे ही अपना ITR ख़ुद से ही फाइल कर सकते हैं ! इस पोर्टल को इनकम टैक्स फाइल करने वाले सभी लोगों की सुविधा के लिए शुरू किया गया है ! जिसमें की अब आपको इस काम के लिए किसी के पास जाने की आवश्यकता नहीं है ! आप घर बैठे ही अपना खुद का इनकम टैक्स फाइल कर सकते और जब चाहें इसका स्टेटस भी देख सकते हैं !

इस पोर्टल के lonch हो जाने के कारण अब जहाँ आपके समय की बचत होगी वहीं अब आप आयकर से सम्बंधित सभी सेवाओं का लाभ एक ही जगह से प्राप्त कर सकेंगे !

Online I.T.R Filing Process Live Video :

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का पूरा प्रोसेस दिए जा रहे विडियो में स्टेप बाई स्टेप बताया गया है ! आप चाहें तो यहाँ से भी step by step इस पूरे प्रोसेस को लाइव देख सकते हैं !

Online Income Tax Return Filing Process :

ऑनलाइन ITR फाइल करने के लिए आपको निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना है !

Step #1.

  • सबस पहले ITR फाइल करने के लिए सबसे पहले आपको आयकर विभाग की ऑफिसियल वेबसाईट incometax.gov.in पर आ जाना है !
  • official website पर जाने के बाद आपको कुछ ऐसा इंटरफ़ेस देखने को मिल जाएगा ! जहाँ पर आपको रजिस्टर कर लेना है !
itr filing process
itr filing process
  • यहाँ से आपको login कर लेना है लॉग इन कर लेने के बाद आप वेलकम पेज पर redirect हो जायेंगे ! यहाँ से आपको नेक्स्ट के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है !
assesment year
assesment year
  • next के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद अपना Assesment Year और Select Mode Of Filling सेलेक्ट करना है ! और कंटिन्यू / प्रोसीड के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है !

Step #2.

  • इसके बाद आपको अपना स्टेटस जो भी आप पर लागू होता हो जैसे कि Individual / HUF / Others को सेलेक्ट करके Continue के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है !
आई. टी. आर. फॉर्म
आई. टी. आर. फॉर्म
  • यहाँ से आपको अपना I.T.R फॉर्म सेलेक्ट कर लेना है ! अगर आप नहीं जानते की आपको किस प्रकार का I.T.R फॉर्म सेलेक्ट करना है ! तो आपको हेल्प का सेशन भी यहाँ पर देखने को मिल जाता है ! जहाँ से आप अपनी income category के अनुसार अपने लिए सही I.T.R Form को सेलेक्ट कर सकते हैं !
  • अब आपको अपने द्वारा सेलेक्ट किये गए फॉर्म के साथ प्रोसीड विथ ITR के ऑप्शन पर क्लिक करना है !
ITR Filing step 3
ITR Filing step 3
  • प्रोसीड करते ही आपके स्क्रीन पर Question का एक सेशन खुलकर आ जाता है ! जहाँ पर आपसे इनकम टैक्स फाइल करने का कोई एक कारण पूछा जाता है ! आपको अपना रीज़न सेलेक्ट कर लेना है !

Step #3.

  • अब आपके सामने return summary का पेज open हो जाता है ! यहाँ पर आपको 5 सेशन देस्खने को मिल जाते हैं ! personal information, Gross Total Income, Total Deduction, Taxes Paid, Total Taxes Liabilities !
  • सभी सेशंस को आपको स्टेप बाई स्टेप Fill और verify कर लेना है ! और प्रोसीड के ऑप्शन पर क्लिक करते रहना है !
ITR proceeding steps session
ITR proceeding steps session
  • पर्सनल इनफार्मेशन के सेशन पर आपको अपनी व्यक्तिगत इनफार्मेशन जैसे कि नाम, पता जन्मतिथि, नेचर ऑफ़ एम्प्लोयेमेंट, बैंक डिटेल्स, अकाउंट टाइप, को सेलेक्ट करके कंटिन्यू कर देना है !
Gross Salery Session
Gross Salery Session
  • ग्रॉस टोटल इनकम के सेशन में आपको अपनी ग्रॉस और नेट इनकम और Exempt यानी कि आयकर मुक्त धनराशि Income From Other Sources का विवरण देना है ! और कंटिन्यू के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है !
NET Salery
NET Salery

Step #4.

  • टोटल डिडक्शन के सेशन पर आपको अपने सभी डिडक्शनस का विवरण प्रस्तुत करना होता है ! इसके अलावा सेशन 80 C / 80 D के अंतर्गत डिडक्शन का विवरण भी आपको देना होता है ! डिडक्शनस का विवरण देने के बाद आपको कंटिन्यू के विकल्प पर क्लिक कर देना होता है !
Exempt Income
Exempt Income
  • टैक्स पेड के सेक्शन में आपको अपनी टैक्स पेड डिटेल्स को वेरीफाई कर देना होता है ! और कंटिन्यू के ऑप्शन पर क्लिक कर देना होता है !
Verify Your Tax Paid Details
Verify Your Tax Paid Details
  • टोटल टैक्स ऑफ़ लाइबिलिटी के सेशन में आपको दो विकल्प देखने को मिल जाते हैं ! पहला- Computation Of Income दूसरा- Computation Of Tax यहाँ पर आपको वित्तीय वर्ष की आय और टैक्स की गणना देखने को मिल जाती है ! अब आपको प्रोसीड के विकल्प पर क्लिक कर देना होता है !
computation of income
computation of income
  • प्रोसीड करते ही आपके सामने एक नया पेज open हो जाता है ! यहाँ पर आपको Lets Validate Your Pre Filled Return ऑप्शन देखने को मिल जाते हैं !

Step #5.

  • पहला ऑप्शन- Validate Return का होता है जो कि पहले से ही कम्पलीट हो चुका होता है ! यहाँ से आपको इसे कंटिन्यू कर देना होता है !
  • दूसरा ऑप्शन- Confirm Your Return Summary का होता है ! जहाँ पर आप अपने द्वारा दी गयी जानकारियों को एक बार पुनः पढ़कर कंफ़र्म कर सकते है !
ITR Preview
ITR Preview
  • तीसरा ऑप्शन- Verify And Submit का होता है यहाँ से आप अपना आई. टी. आर. प्रोसीड टू प्रीव्यू करके देख भी सकते हैं जो की आपको कुछ ऐसा देखने को मिल जाता है !
  • सभी जानकारियाँ सही होने पर प्रोसीड टू वेलिडेशन पर क्लिक कर के e-filing की वेबसाईट पर सबमिट कर देना होता है !

e Filling Portal पर आयकर से सम्बंधित सुविधाएं :

वर्तमान में सरकार द्वारा e- filling पोर्टल पर income tax payers को निम्नलिखित सुविधाएं दी जाती हैं :

  • e-Verify Return
  • Link Aadhar
  • Link Aadhar Status
  • e- pay tax
  • Income Tax Return (ITR) Status
  • Verify Your Pan
  • Know TAN Details
  • TAX Information And Services
  • Know Your AO (Jurisdictional Assessing Officer)
  • Authenticate Notice/Order Issued by ITD
  • Instant E- PAN
  • TDS On Cash Withdrawal
  • Account Misuse

फॉर्म 26 as क्या है ?  

फॉर्म- 26 AS एक प्रकार से सभी टैक्स पेयर्स के लिए उस वित्तीय वर्ष का वितरण फॉर्म होता है ! इसे आप अपना वार्षिक टैक्स स्टेटमेंट भी कह सकते हैं ! आयकर का भुगतान करने वाले सभी व्यक्ति इस फॉर्म को income tax की ऑफिसियल वेबसाईट से प्राप्त कर सकते हैं ! इसके लिए उनके पास PAN होना अनिवार्य है !

यह फॉर्म आपकी आमदनी पर काटे जाने वाले टैक्स और अथवा आपके द्वारा भुगतान किये गए टैक्स अथवा आपके टैक्स रिफंड का विवरण प्रपत्र होता है ! साथ ही आपको इस फॉर्म में इनकम टैक्स काटने वाली संस्था अथवा व्यक्ति का विवरण जैसे कि नाम TAN नंबर इत्यादि की जानकारी भी प्राप्त होती रहती है ! इसके आलावा यह आपके द्वारा अचल संपत्ति की बिक्री पर काटे गए टैक्स का प्रमाण भी होता है ! किराए पर दी गयी प्रॉपर्टी पर अदा किये गए टैक्स का प्रमाण पत्र ! आपके द्वारा चुकाए गए अग्रिम कर का प्रमाण पत्र भी आप इसे कह सकते हैं !

Income Tax Return(ITR) के सम्बन्ध में पूछे जाने वाले प्रश्न :

प्रश्न 1. Zero Income Tax Return क्या है ?

उत्तर. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा निर्धारित किये गए नियमों के अनुसार ऐसे लोग जिनकी कुल वार्षिक आय (Income) 2.5 लाख रूपये से कम है ! वे सभी लोग आयकर रिटर्न करने की प्रक्रिया से मुक्त हैं ! फिर भी यदि वे लोग चाहें तो अपना zero income tax return फाइल कर सकते हैं !

प्रश्न 2. I.T.R फाइल करने और TAX चुकाने में क्या अंतर है ?

उत्तर. मुख्यतः ITR फाइल करने से तात्पर्य अपनी आय को सरकार के समक्ष प्रस्तुत करना होता है ! इसके अंतर्गत वे लोग भी ITR फाइल कर सकते हैं जो की आयकर भुगतान की सीमा अथवा श्रेणी में न आते हों ! ITR को आपकी आय का साक्ष्य और प्रमाण माना जाता है !

प्रश्न 3. I.T.R फॉर्म के अंतर्गत Category का क्या मतलब है ?

उत्तर. I.T.R फॉर्म को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा आय के अनुसार विभिन्न श्रेणियों में विभाजित किया है ! जिसमें कि आपको अपनी आय के अनुसार सही और तय किये गए फॉर्म को ही भरना होता है !

प्रश्न 4. I.T.R के अंतर्गत कम्प्यूटेशन ऑफ़ इनकम क्या है ?

उत्तर. ITR के अंतर्गत कम्प्यूटेशन ऑफ़ इनकम को आपकी कुल ग्रॉस आय और नेट आय की गड़ना कहा जाता है !

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular