Income Tax बचाने के लिए आप ये सरल और आसान उपाय अपना सकते हैं, जानें पूरी डिटेल?

Income Tax Saving Schemes 2022-23 :

दोस्तों जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि जितने भी टैक्स पयेर्स लोग हैं वे हमेशा ज्यादा से ज्यादा Income Tax Savings के विकल्पों की तलाश में रहते हैं क्योंकी यह उनकी मेहनत की कमाई होती है ! कोई भी टैक्स पयेर्स टैक्स बचाने के विकल्पों से चूकना पसंद नहीं करता है जो उनके द्वारा टैक्स के रूप में भुगतान किए जाने वाले धन को बचा सकते हैं!

जैसा कि आप सभी जानते ही हैं कि जब आप आयकर भुगतान करने की श्रेणी में आ जाते हैं तो शुरुआती समय में आपके सामने टैक्स सेविंग को लेकर बहुत सारी समस्याएं आती हैं! लोगों को उनकी मेहनत की कमाई का एक हिस्सा इनकम टैक्स के रूप में देना भारी लगता है! लेकिन अगर देखा जाए तो एक जिम्मेदार नागरिक और देश के विकास के लिए टैक्स देना हम सभी लोगों को वित्तीय कर्तव्य भी है! मुख्यतः आयकर देने वाले सभी लोग हमेशा ज्यादा से ज्यादा टैक्स बचाने के विकल्पों की तलाश में रहते हैं!

कोई भी व्यक्ति ऐसे विकल्पों में चूकना पसंद नहीं करता है जो उनकी टैक्स सेविंग करा सकते हैं ! इनकम टैक्स सेविंग के लिए लोग अलग-अलग तरीके पसंद करते हैं! लोगों द्वारा टैक्स बचाने के अलग-अलग तरीके और प्लान्स पसंद किये जाते हैं! इस सम्बन्ध में भारत सरकार द्वारा टैक्स सेविंग को लेकर नागरिकों के लिए धारा 80C के तहत कुछ महत्वपूर्ण प्रावधान भी किए गए हैं जिसके तहत आप आयकर में छूट प्राप्त कर सकते हैं !

यह भी पढ़ें – Income Tax Return(ITR) सिर्फ 5 मिनट में फाइल करें, जानें पूरा प्रोसेस

इनकम टैक्स सेविंग् के लिए चुनें ये प्लान :

नए ववित्तीय वर्ष 2022-23 के तहत अगर आप भी आयकर में छूट का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं! और ऐसे प्लान्स और स्कीमों में निवेश करना चाहते हैं जिससे कि आपका टैक्स रिफंड हो सके तो इसके लिए कई ऐसे प्लान्स हैं जो कि आपको आयकर में छूट दिला सकते हैं इनमें निवेश करके न सिर्फ आप भविष्य के लिए एक बड़ा बजट तैयार कर सकते हैं बल्कि आपको आपके द्वारा की जाने वाली सेविंग्स पर टैक्स में छूट भी प्राप्त होती रहती है!

दरअसल टैक्स सेविंग एक प्लानिंग है जिसे पहले से करना होता है! जिस भी वित्तीय वर्ष के दौरान आय आयकर में छूट का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उससे पहले से ही आपको टैक्स सेविंग के लिए प्लानिंग निर्धारित करनी पड़ती है तभी आप अपने टैक्स पर रिटर्न का क्लेम कर सकते हैं !

  • Pension plans- यानी की ऐसे प्लान्स जिसमें रिटायरमेंट के बाद आप! एक निश्चित अमाउंट की प्राप्ति प्रत्येक माह होती है !
  • PPF accounts- लोक निर्माण भविष्य निधि इन्वेस्टमेंट प्लान के तहत निवेश! करके आप आयकर में छूट का लाभ प्राप्त कर सकते हैं !
  • Equity mutual funds- इन फंड्स के अंतर्गत निवेश करके आप आयकर में छूट प्राप्त! कर सकते हैं !
  • 5-year tax-saving deposits ऐसी योजनाओं में निवेश करना भी आपके लिए लाभप्रद हो सकता है! क्योंकी यहाँ पर आप आप टैक्स सेविंग्स कर सकते हैं !
  • Life insurance policies or term plans- लाईफ इन्सुरेंस पालिसी और टर्म लाईफ इन्सुरेंसे पॉलिसी के तहत! निवेश शुरू करके भी आप आयकर में छूट प्राप्त कर सकते हैं !

Salary Allowances Saves Income Tax :

अधिकांश कंपनियों द्वारा आपकी टैक्स देनदारी को कम करने के लिए आपकी सैलरी में काफी सारे ऐसे प्रावधान किये जाते हैं जिससे कि! आपका आयकर बाख सके! आप अपनी कंपनी के HR से इस संबंध में बात कर सकते हैं! आप अपने वेतन के हिस्से के रूप में चिकित्सा भत्ता, परिवहन भत्ता, शिक्षा भत्ता और टेलीफोन खर्च जैसे भत्ते का लाभ! उठा सकते हैं, क्योंकि वे कर योग्य नहीं हैं! यानी कि आप इन भत्तों के लिए आयकर का लाभ उठा सकते हैं!

House Rent Allowances (HRA)

देखा जाए तो सभी कर्मचारियों को सामान्यतः उनकी सैलरी के तहत हाउस रेंट अलाउंस (HRA) मिलता है! अगर आप किराए के घर में रहते हैं और नियोक्ता से किराया भत्ता प्राप्त करते हैं! यानी कि अगर आप एक कर्मचारी हैं तो आप आयकर अधिनियम! के अनुसार हाउस रेंट अलाउन्स्मेंट पर छूट का दावा प्रस्तुत कर सकते हैं!

Charitable Contribution :

दान की गयी राशि के तहत भी आप धारा 80G के तहत धर्मार्थ योगदान आपकी आय के 10% तक कटौती योग्य हैं! हालांकि, आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपको बिना किसी पावती के दान करने के बजाय संगठन! से एक रसीद और उनके आयकर छूट प्रमाण पत्र की एक प्रति प्राप्त हो! प्राप्त रसीद के आधार पर ही आप टैक्स में छूट और रिटर्न का लाभ उठा पायेंगे !

इन सेक्शन्स के तहत होती है टैक्स में बचत :

इनकम टैक्स में छूट का लाभ लेने के लिए कुछ विशेष सेक्शन बनें हैं जिनके तहत ही आपको! आपके द्वारा भुगतान किये गए टैक्स का रिटर्न वापस मिलता है! यहाँ पर हमारे द्वारा आपको वो सेक्शन्स बताये जा रहे हैं! जिनके तहत आप आयकर में छूट का लाभ प्राप्त कर सकते हैं !

[wpdatatable id=76]

FAQs About Income Tax Savings :

प्रश्न 1. आयकर विभाग की आधिकारिक वेबसाईट क्या है ?

उत्तर. आयकर विभाग की आधिकारिक वेबसाईट –https://www.incometax.gov.in/ है!

प्रश्न 2. खुद से आईटीआर कैसे फ़ाइल कर सकते हैं ?

उत्तर. खुद से आईटीआर फ़ाइल करना चाहते हैं तो दिए गए लिंक पर क्लिक करके पूरा लेख पढ़ें हमारे द्वारा इस! लेख के माध्यम से आईटीआर फ़ाइल करने का पूरा प्रोसेस बताया गया है!- Click Here

प्रश्न 3. क्या आईटीआर से आधार कार्ड को लिंक करना अनिवार्य है ?

उत्तर. हाँ आईटीआर से आधार कार्ड को लिंक करना अनिवार्य है आप आयकर विभाग की आधिकारिक वेबसाईट! पर जाकर अपना आधार कार्ड अपने ITR से लिंक कर सकते हैं!