नमस्कार दोस्तों ! सड़क दुर्घटनाओं और वाहनों की चोरी रोंकने के लिए सरकार कई बड़े कदम उठा

रही है.केंद्र सरकार एक नियम लेकर आ रही है इसके द्वारा देशभर में वाहनों के दस्तावेजों जैसे रजिस्ट्रेशन

सर्टिफिकेट (आरसी), ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल), फिटनेस सर्टिफिकेट,व्हीकल रिन्यू सर्टिफिकेट,

फिटनेस सर्टिफिकेट, एनओसी से मोबाइल नंबर लिंक करना जरूरी होगा. नई व्यवस्था एक अप्रैल 2020

से लागू हो जाएगी. सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने 29 नवंबर को सुझाव-शिकायत के लिए अधिसूचना

जारी कर दी है. सरकार ने शुरूआत में इसे दिल्ली और गुजरात के वाहन चालकों और मालिकों के लिए

जरूरी किया था, जिसे अब देशभर में लागू किया जाएगा.

यह भी पढ़ें :सावधान ! ATM के अंदर होंगे आप और बाहर खड़ा व्यक्ति उड़ा देगा पैसे,जानिए कैसे

इस पॉलिसी के फायदे क्या होंगे

1.वाहन डाटा बेस में मोबाइल नंबर दर्ज होने से जीपीएस के अलावा मोबाइल नंबर की मदद से किसी

भी व्यक्ति की लोकेशन का पता किया जा सकता है.

2.व्हीकल डाक्यूमेंट्स के साथ मोबाइल नंबर अटैच होने से गाड़ी की चोरी, खरीद फरोख्त पर रोक

लागने में मदद मिलेगी.

3.इसमें विशेषकर सड़क दुर्घटना, अपराध को अंजाम देने के बाद पुलिस उक्त व्यक्ति का आसानी

से तुरंत पता लगा सकती है और भ्रष्टाचार से भी राहत मिलेगी.

4.इसके साथ ही केंद्र सरकार व अन्य सरकारी संस्थाओं के पास सभी वाहनों और ड्राइविंग लाइसेंस

का पूरा डाटा, मोबाइल नंबर सहित उपलब्ध होगा.

यह भी पढ़ें :वन नेशन वन राशन कार्ड की पहल 1 जून 2020 से होगी शुरू,जानिए आपको क्या होगा फायदा

मोबाइल नंबर कैसे करें रजिस्टर्ड

इस नियम के तहत एक मोबाइल नंबर पर अधिकतम पांच वाहन ही रजिस्टर होंगे. नए वाहन के पंजीकरण

और ड्राइविंग लाइसेंस में आरटीओ की ही मोबाइल नंबर को लिंक किया जा रहा है, पुराने वाहन या डीएल

धारकों को खुद ऑनलाइन या आरटीओ कार्यालय जाकर मोबाइल नंबर अपडेट कराना होगा.

यह भी पढ़ें :एकमुश्त अदायगी योजना के तहत 31 दिसम्बर तक किसान जमा कर सकेंगे अपना लोन

ऐसे करें ऑनलाइन मोबाइल नंबर अपडेट

1.अगर वाहन के RC या ड्राइविंग लाइसेंस से मोबाइल नंबर जोड़ना चाहते हैं तो आपको सबसे

पहले आपको परिवहन विभाग की वेबसाइट लिंक

https://sarathi.parivahan.gov.in/sarathiservice1/stateSelection.do पर जाना होगा.

2.इसके बाद आपको लॉग इन आईडी बनाना होगा.

3.इसके बाद वाहन कैटेगरी के अंतर्गत वाहन पंजीकरण संबंधी सेवाएं पर क्लिक कर आप अपने वाहन

के पंजीकरण सर्टिफिकेट में मोबाइल नंबर को शामिल कर सकते हैं.

4. इसके लिए आपको वाहन पंजीकरण संख्या, इंजन नंबर और चेसिस नंबर की जरूरत होगी. केंद्र

सरकार का वाहन एप्लिकेशन, वाहन पंजीकरण संबंधी सेवाओं के लिए है.

ताज़ा न्यूज़ अपडेट के लिए बने रहे sarkaridna.com के साथ और अधिक जानकरी के लिए आप हमारे

Youtube Channel को Watch करे

 हमारे Youtube पर जाने के लिए  नीचे दिए गये आइकॉन पर क्लिक करे 

sarkaridna Youtube

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here