दाल के फारे कैसे बनाये और इसकी विधि क्या है

नमस्कार दोस्तों –

हेल्लो फ्रेंड मै मोना शुक्ला आज आपको बहुत ही

अच्छी और स्वादिस्ट रेसिपी के बारे में बताने जा रही हु  उत्तर भारत में बनायी जाने वाली बहुत पुरानी रेसिपी है

और इसे हर जगह कई कई अलग-अलग नामो से भी जानते और यह उडद की दाल का बनता है

आज कल लोग इसे बहुत कम बनाते है |

मगर यह खाने में बहुत स्वादिस्ट और बिना तेल का प्रयोग किये बना सकते है |

तो अब हम जानेगे की इसकी क्या विधि होती है और इसकी क्या सामग्री 

1 सामग्री 

चावल का आटा – 500 ग्राम

गेहू का आटा –   200 ग्राम,

चने की दाल – 150 ग्राम,

उड़द की दाल – 150 ग्राम,

लहसुन – 8-10 कली,

अदरक – आधा इंच का टुकड़ा,

हरी मिर्च – 4-5,

हल्दी पाउडर 1 छोटे चम्मच,

धनिया पाउडर – 1 छोटे चम्मच,

गरम मसाला – 1 छोटे चम्मच,

सरसों का तेल 2 चम्मच,

नमक स्वादानुसार

अब इसको आप कैसे बनायेगे जाने इसकी विधि 

चने और उड़द की दाल को रात भर के लिए पानी डालकर भिगो दीजिये या फिर 4-5 घंटो के लिए भी भिगो सकते है | जब दाल भीग जाए तो पानी निकालकर मिक्सी में पीस ले |

आप अगर लहसुन खाते हो तो अब उसका   लहसुन, अदरक और हरी मिर्च को भी पीस ले | फिर पीसी हुई दाल में लहसुन, अदरक वाले पेस्ट को, धनिया पाउडर, हल्दी पाउडर, गरम मसाला और नमक मिला दे |

और अब इसको कैसे बनाया जाता है या जाने 

अब चावल और गेहूं के आटे को मिलाकर गूँथ ले | एक भगोने या कुकर में पानी, सरसों का तेल और नमक डालकर उबलने के लिए रख दे |

इसे चाहे तो Dhokale bnane ki bidhi ढोकले का मिश्रण बनाये  recipe , में या भाप में पकाकर बना सकते है | अब गुथे हुए आटे की गोल- गोल लोइया बनाकर बेल ले |

फिर इसके बीच में पीसी हुई दाल के मिक्सचर को भरकर मोड़ दे | ऐसे ही सारे लोइयो का फरा बनाकर उबलते पानी में डालते जाए | फिर इसे ढक्कन से ढककर पकने दे |

बीच –बीच में चमचे से चला दे जिससे की फरा नीचे से चिपक न पाए | जब फरा पक जाए तो इसे निकालकर टमाटर और हरी धनिया की चटनी के साथ सर्व करे

और या भी पढ़े