Employees Provident Fund Organisation (EPFO)के कर्मचारी Pension Yojna
के तहत Pension कोष से एक मुश्त आंशिक निकासी यानी ‘कम्युटेशन’ की सुविधा एक जनवरी से देगा।

दोस्तों सरकार के इस नए नियम से कम से कम 6.4 लाख pensioners को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा
6.4 लाख पेंशनधारको को अपनी Pension निकासी का option select किया था और 2009 से
पहले रिटायर के समय उन्हें pension मद में जमा amount में से कुछ हिस्सा एक मुश्त निकालने की
अनुमति मिल गयी थी। EPFO ने 2009 में pension मद में से निकासी के प्रावधान को वापस ले लिया था।

Employee Pension Scheme (EPS

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार , ‘Employee Pension Scheme (EPS) के तहत पेंशन ‘कम्युटेशन’ सुविधा
लागू करने के EPFO के निर्णय के क्रियान्वयन को लेकर एक जनवरी 2020 को अधिसूचना जारी करेगा।’

इस सुविधा के तहत पेंशनधारक को अगली में Pension का एक हिस्सा एकसाथ दे दिया जाता है। उसके बाद अगले 15 साल के लिए उसकी मासिक pension में एक तिहाई की कटौती की जाती है। 15 साल बाद पेंशनभोगी पूरी पेंशन लेने
के लिये पात्र होते हैं।

सरकारी कर्मचारियों  को पहले से ही मिल रही थी ये सुविधा 

EPFO का निर्णय लेने वाला शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड ने 21 अगस्त 2019 को हुई बैठक में इस सुविधा का लाभ
लेने वाले 6.3 लाख पेंशनभोगियों को ‘कम्युटेशन’ प्रावधान बहाल करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी। केंद्रीय न्यासी बोर्ड
के अध्यक्ष श्रम मंत्री हैं। ईपीएफओ की एक समिति ने आंशिक निकासी के 15 साल बाद पेंशन राशि बहाल करने को
लेकर ईपीएफसी-95 में संशोधन की सिफारिश की थी।

इसे भी पढ़े :किसान क्रेडिट कार्ड के लिए ऐसे करे ऑनलाइन अप्लाई करे नये के तहत सिर्फ15 दिन मिलेगा KCC

पेंशन ‘कम्युटेशन’ को बहाल करने की मांग थी। इससे पहले, ईपीएस-95 सदस्यों को 10 साल के लिये पेंशन मद में से
एक तिहाई राशि निकालने की अनुमति थी। इसे 15 साल बाद बहाल किया गया है। यह सुविधा सरकारी कर्मचारियों
के लिये पहले से चली आ रही है।

ताज़ा न्यूज़ अपडेट के लिए बने रहे sarkaridna.com के साथ और अधिक जानकरी के लिए आप हमारी
youube videos देख सकते है video देखने के लिए नीचे दिए गये youtube आइकॉन पर क्लिक करे

sarkaridna Youtube

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here