फ़ेसऐप का कर रहे यूज़ तो खतरे में है आपकी प्राइवेसी

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है अरुन और दोस्तों हम आज इस पोस्ट में बात करने वाले फ़ेसऐप प्राइवेसी के बारे में दोस्तों आज इस

ऐप के यूजर दिन पर दिन बढ़ते जारहे मगर इस फ़ेसऐप को लेकर प्राइवेसी कई बड़े सवाल उठ रहे है

फ़ेसऐप यूजर हैं तो सावधान हो जायें

खबर आपके लिये हैं। फ़ेसऐप की इस वक्त दुनिया भर में धूम मची है।

इस एप इसको अब तक करीब 12 करोड़ से ज्यादा लोग डाउनलोड कर चुके हैं।

यूजर्स यह नहीं जानते हैं कि अपने बुढ़ापे की तस्वीर उन्हेंं जितना रोमांचित कर रही है उसके अपने ख़तरे भी हैं

फ़ेसऐप यूजर की  प्राइवेसी खतरे में

यह रूसी ऐप है जब आप ऐप को फ़ोटो बदलने के लिए भेजते हैं तो

यह फ़ेसऐप सर्वर तक जाता है.यूजर्स यह नहीं जानते हैं

कि अपने बुढ़ापे की तस्वीर उन्हेंं जितना रोमांचित कर रही है उसके अपने ख़तरे भी हैं.

यह रूसी ऐप है  फ़ेसऐप कोई नया नहीं है. ‘एथनिसिटी फिल्टर्स’ को लेकर दो साल पहले यह विवाद में आया था

FaceApp Removes Ethnicity Filters

2017 में भीफ़ेसऐप काफ़ी विवाद में आ गया था जब उसके एक फीचर में यूजर्स की नस्ल को एडिट करने की सुविधा थी.

लीक हो रही हैं आपकी तस्वीरें

फेसएप एंड्रॉयड यूजर्स के लिये बड़ा खतरा

आपकी प्राइवेसी फेसएप के हाथ में

इंतज़ार करिये अपने बूढ़े होने का

फेसएप चुरा रहा है आपकी सारी तस्वीरें

रूस का ऐप है फेसएप

यह ऐप एंड्राइड प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर दोनों जगह पर उपलब्ध है।

रूस की कंपनी द्वारा बनाया गया यह है, लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहा है।

इस ऐप को यूज करने के बाद जैसे ही आप फोटो अपलोड करते हैं तो आप की फोटो के साथ आपके मोबाइल फोन में उपलब्ध कांटेक्ट नंबर,

ईमेल आईडी फोटोस, वीडियोस समस्त समेत समस्त जानकारी चुरा ली जाती है। इसका आपको पता भी नहीं चलता है।

एप की बात की जाए तो यह रसिया की एक कंपनी के द्वारा बनाया गया है और 2017 में स्कोर एंड्राइड प्ले स्टोर पर अपलोड किया गया था,

हालांकि यह पॉपुलर नहीं हुआ और इसके बाद इसको 18 जुलाई 2019 को यानी 3 दिन

पहले ही फेशएप आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को अपडेट किया गया है।

आपको बता दें कि इस ऐप को रूस की एक कंपनी ने वायरलेस लैब में बनाया था

फ़ेसऐप का कर रहे यूज़ तो खतरे में है आपकी प्राइवेसी

जिसके संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी यारोलव गोंशरोव माइक्रोसॉफ्ट में काम कर चुके हैं।

रूस से होने के कारण इस ऐप को यूज करने के खतरे की बात भी ज्यादा बताई जा रही है।

शाहरुख खान, सलमान खान, ऋतिक रोशन, विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी समेत देश दुनिया की जानी-मानी हस्तियों द्वारा इस ऐप को यूज किया जा रहा है,

लेकिन इसका खतरा शायद यूजर्स को मालूम नहीं है फ़ेसऐप का कर रहे यूज़ तो खतरे में है आपकी प्राइवेसी

फेशएप के डाटा चुराने की बात की जाए एप डाउनलोड करने के बाद 250 तरह की अनुमति हमसे लेता है, जिसकी हम ऐप को डाउनलोड करते वक्त परवाह नहीं करते हैं और बिना सोचे समझे अनुमति दे देते हैं।

यह ऐप आपकी आदतों और रुचियों का समझने की कोशिश कर रहा है ताकि विज्ञापन में इस्तेमाल किया जा सके

इसे मार्केटिंग के हथियार के तौर पर भी देखा जा रहा है.

फेसबुक यूजर्स को फेस ऐप के नुकसान से ऐसे बचे

साइबर एक्सपर्ट दिलीप सोनी बताते हैं कि फेसबुक यूजर्स को फेस ऐप के माध्यम से होने वाले नुकसान से सावधान रहना होगा।

एंड्रॉयड एप यूजर अपने मोबाइल फोन की सेटिंग में एप्लीकेशन मैनेजर पर जाकर एप को दी गई परमिशन देख सकते हैं और उसको तुरंत प्रभाव से बंद कर दें।

फ़ेसऐप का कर रहे यूज़ तो खतरे में है आपकी प्राइवेसी

दोस्तों ऐसी ताज़ा न्यूज़ अपडेट के लिए बने रहे हमारे साथ और हमारे

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here