बिना अपना सेट टॉप बॉक्स बदले आप अपना डीटीएच ऑपरेटर बदल सकते

0
154

बिना अपना सेट टॉप बॉक्स बदले आप अपना डीटीएच ऑपरेटर बदल सकते

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम है अरुन और हम आज आपको बताने वाले

एक ऐसी जानकारी जो शायद आपको ना  हो पता जो चैनल आप देखंगे सिर्फ उसके  ही पैसा देने होंगे 

ट्राई का नया रूल, ट्राई ने इस रूल में ये सुविधा दी है

जो चैनल देखिए सिर्फ उसका ही पैसा दीजिए। सालों पहले

डायरेक्ट टु होम (डीटीएच) सर्विस अपनाने को प्रेरित करने के लिए दर्शकों से यह बात कही गई थी

लेकिन एंटरटेनमेंट, किड्स, नॉलेज, स्पोर्ट्स जैसे पैक्स को चुनने

के बाद उपभोक्ताओं के लिए यह पहले से महंगा साबित हो गया।

तुम बुहत डीटीएच सर्विस के बाद टीवी के दर्शकों को हमेशा नए बदलाव मिलते रहें है

ग्राहकों की सुविधा को ध्यान में रखकर सरकार भी नए-नए प्रयोग करती है, जिससे ग्राहकों को ज़्यादा से ज़्यादा फायदा हो

अभी अगर हमें टीवी देखने के लिए किसी और का प्लान पसंद आता है

तो हमें सर्विस प्रोवाइडर के साथ-साथ पूरा सेटअप बॉक्स भी चेंज करवाना पड़ता है,

मगर ट्राई इस परेशानी से छुटकारा दिलाने पर काम कर रही है.

टेलीफोन रेग्युलेटरी ऑथारिटी ऑफ इंडिया यानी TRAI एक ऐसे नियम पर विचार कर रही है,

जिसे लागू कर दिया जाए तो ग्राहकों को सेट टॉप बॉक्स की समस्या का समाधान मिल जाएगा

भारत में टेलिविजन की दुनिया एक नए युग में प्रवेश करने जा रही है।

1 जुलाई से दिल्ली समेत चारों महानगरों के घरों में जो भी टीवी हैं,

वे डिजिटल तकनीक से लैस होंगे। ऐसे में एक आम उपभोक्ता के लिए क्या बदलेगा? उसे क्या करना होगा? क्या उस पर कोई नया खर्च पड़ेगा? ऐसे ही तमाम सवालों के जवाब पेश कर रहे हैं

ट्राई का नया रूल, ट्राई ने इस रूल में ये सुविधा दी है

आप  बिना अपना सेट टॉप बॉक्स बदले आप अपना डीटीएच ऑपरेटर बदल सकते

ट्राई टीवी सेट टॉप बॉक्स के नियमों में कुछ बदलाव करना चाहता है

ट्राई की कोशिश है कि इस नए नियम के तहत टीवी सेट टॉप बॉक्स को भी मोबाइल के सिम की तरह पोर्टिबिलिटी कराई जा सके.

इस समय हर एक डीटीएच कंपनी का अपना एक अलग सेट टॉप बॉक्स होता है. ऐसे में अगर आप पोर्टिबिलिटी कराते हैं, तो सेट टॉप बॉक्स की समस्या आ जाती है कि अब इसका क्या करें

. पुराना सेट टॉप बॉक्स किसी काम का नहीं रह जाता है  ऐसे में सेट टॉप बॉक्स बदलना मुश्किल रहता है. क्योंकि इसे बदलने के लिए पैसे खर्च करने पड़ते हैं.

सब्सक्राइब करने से पहले जानें ले नए प्लान्स की ये जरुरी बातें

ब्रॉडकास्टर्स ने अलग-अलग कुछ अन्य प्लान्स भी पेश किए हैं। वैसे तो कंपनियों ने हर चैनल की MRP बता दी है लेकिन आपको इन MRP पर ब्रॉडकास्टर के जरिए ऑफर भी दिया जा सकता है। वहीं, इनके बेस पैक्स 130 रुपये से कम हैं।

हर केबल ऑपरेटर या DTH कंपनी को 999 चैनल नंबर पर एक इंफॉर्मेशन चैनल चलाने के आदेश दिए गए हैं जिससे ग्राहकों को हर चैनल की कीमत का पता लग सके

TRAI ने आदेश दिए हैं कि 31 जनवरी तक ग्राहकों को सर्विस में किसी तरह की कोई रुकावट नहीं दी जाएगी। लेकिन इसके बाद उन्हें बेसिक प्लान पर माइग्रेट कर दिया जाएगा जिसमें कोई भी पेड चैनल नहीं होंगे।

ग्राहक सर्विस प्रोवाइडर को छोड़ बाजार से एक सेट टॉप बॉक्स भी खरीद सकता है।

FTA चैनल्स को पेड चैनल्स के साथ क्लब नहीं किया जा सकता है।

वहीं, HD चैनल्स को भी उसके SD वर्जन के साथ क्लब नहीं किया जा सकता है।

ब्रॉडकास्टर्स में से करीब 17 ने कुछ चैनल्स को बंडल कर डिस्काउंट के साथ उपलब्ध कराया है। उदाहरण के तौर पर: 9 चैनल्स की कीमत 63 रुपये है।

लेकिन अगर इन्हें एक साथ लिया जाता है तो इन्हें मात्र 31 रुपये में लिया जा सकता है।

TRAI द्वारा दी गई रिपोर्ट के मुताबिक 40 ब्रॉडकास्टर्स के 330 चैनल्स से ज्यादा HD और SD चैनल हैं।

वहीं, निजी FTA चैनल्स की संख्या 535 से भी ज्यादा है।

दोस्तों आप हमारे फेसबुक पेज को लिखे करने के लिए क्लिक करे और ताज़ा न्यूज़ अपडेट जुड़े रहे हमारे साथ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here