प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना में भी पैसा दिए बिना कैसे उठाये फायदा

0
344
प्रधानमंत्री किसान पेंशन
प्रधानमंत्री किसान पेंशन

हेल्लो फ्रेंड  मेरा नाम मोना शुक्ला है दोस्तों हम आपको बतायेगे की प्रधानमंत्री से किसानो को जो लाभ

मिलेगा उसके बारे में हम आपको अपनी पोस्ट में बताना चाहती हु तो दोस्तों मोदी सरकार ने

किसानो के लिए मानधन योजना यानी पेंशन स्कीम  (pradhan mantri kisan mandhan

yojana) शुरू की है इसके लिए आपको अपने नजदीकी csc सेंटर पर जाकर अपना नाम दर्ज

करवा सकते है केन्द्रीय क्रषि मंत्रालय के संयुक्त सचिव राजबीर सिंह के मुताबिक़ रजिस्टेशन के

लिए कोई फ़ीस नही लगती है यदि किसान पीएम किसान सम्मान निधि (Pradhan Mantri

Kisan Samman Nidhi Scheme) का लाभ ले रहा है तो उससे इसके लिए कोई दस्तावेज

नहीं लिया जाएगा.और इसमें आधार कार्ड सबसे जरुरी होता है और अगर कोई किसान बीच में

स्कीम छोड़ना चाहता है तो उसका पैसा नही डूबेगा उसने स्कीम छोड़ने तक उसका जो पैसा

जमा है उसपर सेविग अकाउंट के ब्याज मिलेगा इस तरह किसी भी किसान के लिए यह स्कीम घाटे का सौदा नही है

अधिकतम 200 रुपये प्रतिमाह होगा प्रीमियम 

कृषि मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक ही रजिस्टेशन शुरू हुआ और अपना रजिस्टेशन

करवा लीजिये और इस स्कीम pmkmy के तहत 5 करोड़ किसानो को लाभ मिलेगा और

इसकी उम्र 60 साल उम्र के बाद हर माह 3000 रूपये पेंशन मिलेगी  जिससे उनकी जिन्दगी

काफी आसान हो जाएगी इस स्कीम के  पात्र 18 से 40 साल उम्र के लोग ही हैं. उम्र के हिसाब

से प्रीमियम (Premium) कम ज्यादा होगा. इसका न्यूनतम प्रीमियम 55 रुपये और अधिकतम 200 होगा. इतनी ही रकम सरकार भी जमा करेगी.

1 कितनी उम्र पर कितना प्रीमियम 

19 साल की उम्र पर 58 रूपये 20 साल उम्र पर 105  रुपये प्रतिमाह प्रीमियम देना होगा इसी

तरह 31 साल के किसान को मासिक 110 रुपये प्रीमियम देना होगा इसके बाद 40 साल तक

साल पर 10 रुपये प्रीमियम बढते  40 साल पर 200 रुपये हो जायेगा

 यह भी पढ़े 

आयुष्मान भारत योजना में कौन कौन सी बीमारी का इलाज होता है

रजिस्टेशन करने के लिए कौन कौन से डाक्यूमेंटस हो 

1 आधार कार्ड

2 जमीन रिकाड

3  बैंक पासबुक

4 राशन कार्ड

5 दो फोटो

क्या है प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना

इसके तहत 60 साल की उम्र में 3000 रुपये मिलेगी प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के अंतर्गत 12 करोड़ किसान

वित्त मंत्रालय के उच्चाधिकारियों के अनुसार इस स्कीम में राज्य सरकारों का पूरा सहयोग लिया जा रहा है. राज्यों को कहा गया है

कि वे ज्यादा से ज्यादा किसानों को इसका लाभ पहुंचाने के लिए सहयोग दें.केंद्र सरकार इसका

पूरा जिम्मा लेगी और राज्य सरकारों पर किसी प्रकार का वित्तीय बोझ नहीं डाला जाएगा.

क्या है खास 

 मोदी सरकार भी बराबर राशि का पेंशन निधि में अंशदान करेगी.
इस योजना के तहत किसान पीएम-किसान स्कीम से प्राप्‍त लाभ में से सीधे ही अंशदान करने का विकल्‍प चुन सकते हैं.
अगर लाभ पाने वाले व्यक्ति की मौत हो गई, तो उसके पति/पत्नी को 50% रकम मिलती रहेगी. यानी 1500 रुपये प्रतिमाह.
इस कोष का प्रबंधन भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) करेगा.

यह भी पढ़े –अटल पेंशन योजना बंद कैसे करे और इसका तरीका क्या है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here