नमस्कार दोस्तों सरकारी डीएनए में आप सभी का बहुत-बहुत स्वागत है मेरा नाम है अरुन दोस्तों जैसा कि आप
सभी को पता भारत सरकार ने जल्द ही पुराने मोटर वीइकल ऐक्ट में संशोधन कर दिया और साथ ही नया
मोटर वीइकल ऐक्ट के तहत जुर्माने की फीस दस गुना कर दी गई है दोस्तों अब कार, बाइक या फिर को भी वाहन
चलाते वक्त अब आपको छोटी सी भी गलती भारी पड़ सकती है।

देश भर में नया मोटर वीइकल ऐक्ट आज यानी एक सितंबर से लागू हो रहा है।इसके तहत कई गलतियों पर अपराध को 5 गुना तो कुछ मामलों में 10 गुना और कई मामलों में तो 30 गुना तक बढ़ा दिया गया है।

अब रेट्रो रिफ्लेक्टिव चमकीला टेप नही लगे होने पर देना होगा भारी जुर्माना

दोस्तों केंद्र सरकार ने एक बार फिर से नया मोटर वीइकल ऐक्ट में के तहत कुछ नए नियम लागू किये है
जिसके चलते सभी वाहनों के आगे और पीछे रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप यानि चमकीला टेप लगवाने जरूरी होंगे

इसके तहत वाहन के आगे व पीछे एक खास प्रकार व आकार जिससे अंधेरे में रोशनी पड़ने पर उक्त वाहन नजर
आ सकेंगे।

टेप नहीं टेप लगवाने पर आवश्यक वाहन मालिकों पर जुर्माना लगाया जाएगा। साथ ही भविष्य में ऐसे
वाहनों का फिटनेस प्रणाम पत्र भी जारी नहीं करने का फैसला किया जा सकता है।
दोस्तों सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट में वाहनों में रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप संबंधी
अधिसूचना इस हफ्ते जारी करने जा रहा है।
वरिष्ठ अधिकारी ने के अनुसार कि सड़क सुरक्षा को और अधिक मजबूत और सुरक्षित करने से
यह अहम कदम साबित होगा।

दोस्तों अभी तक ई-रिक्शा, ई-कार्ट, तिपहिया, ट्रैक्टर-ट्रॉली में रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप नहीं लगाए जाते थे
परन्तु अब अधिसूचना जारी होने के बाद यह कानून का रूप ले लेगा

जाने क्या होगा नए नियम में

ई-रिक्शा, ई-कार्ट व तीन पहिया वाहनों में आगे सफेद रंग व पीछे लाल रंग रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप लगाना अनिवार्य होगा।
चौड़ाई 20 मिलीमीटर से कम नहीं होनी चाहिए। ई-रिक्शा अधिकतम रफ्तार 25 किलोमीटर प्रतिघंटा पर दौड़ने पर
50 मीटर की दूरी से नजर आना चाहिए। विभिन्न प्रकार के वाहनों में टेप के रंग व आकार पृथक होंगे।

ऑटो में यह व्यवस्था 2009 से ही लागू थी 

ई-रिक्शा में लगभग एक दशक बाद रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप लगाने का फैसला हो रहा है। ऑटो में यह व्यवस्था 2009 में
लागू कर दिया गया था, लेकिन ई-रिक्शा में टेप लगाने का निर्णय टाल दिया गया।

सड़क हादसों में ई-रिक्शा की बढ़ती संख्या को देखते हुए अब अनिवार्य रूप से टेप लगाने का निर्णय किया जा रहा है।

दोस्तों ऐसी ही ताज़ा न्यूज़ अपडेट के लिए जुड़े रहे sarkaridna.com के साथ और अधिक

जानकरी के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को फ़ॉलो करे और साथ ही लाइक करे 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here