आपकी प्राइवेसी में सेंध लगा रहे हैं ये स्मार्ट होम स्पीकर्स, ऐसे बचें

0
63

आपकी प्राइवेसी में सेंध लगा रहे हैं ये स्मार्ट होम स्पीकर्स, ऐसे बचें

टेक्नोलॉजी जगत की कंपनियां अब आपकी जरूरत की जानकारी तुरंत आपके सामने पेश करना चाहती हैं।

इसके लिए वह डिवाइस में ढेरों फीचर दे रहे हैं फिर वॉयस रिकॉर्डिंग हो, कैमरा ऑन रखना और

अन्य कोई स्मार्ट प्रोडक्ट पहले स्मार्टफोन्स और फिर इनके बाद स्मार्ट

होम डिवाइसेज के बढ़ते उपयोग से भी लोगों की गोपनीयता को खतरा बढ़ गया है।

आजकल दुनियाभर में कई तरह के स्मार्ट डिवाइसेज इस्तेमाल हो रहे हैं। इनमें वॉइस असिस्टेंट और आर्टिफिशियल

इंटेलिजेंस से लैस स्मार्ट होम स्पीकर्स (अमेजन ईको, गूगल होम आदि) को लेकर काफी विवाद हो रहा है

इन डिवाइसेज के जरिए लोगों की निजी बातचीत को रिकॉर्ड करने पर सवाल उठ रहे हैं। हाल की एक मीडिया रिपोर्ट

के मुताबिक अल्फाबेट इंक के कॉन्ट्रेक्टर्स दुनियाभर में गूगल असिस्टेंट के जरिए ये काम कर रहे हैं जो गूगल होम

स्पीकर और एंड्रॉइड डिवाइसेज पर उपलब्ध हैं। इनकी शिकायतें आने के बाद पहले अमेजन और बाद में गूगल ने भी

गूगल ने भी स्वीकार किया है कि वे यूजर्स की बातचीत को रिकॉर्ड करते है

स्वीकार किया है कि वे यूजर्स की बातचीत को रिकॉर्ड करके उसका विश्लेषण करते हैं।

ऐसे में यूजर्स को अपनी प्राइवेसी के खतरों और उसे सुरक्षित रखते हुए अपने स्मार्ट होम

स्पीकर्स को कैसे इस्तेमाल करना चाहिए, यह समझना जरूरी है।

ऐसे बचे अपनी प्राइवेसी को लीक होने से

दोस्तों स्मार्ट डिवाइसेज यूजर्स के इनपुट से ही चलते हैं। प्राइवेसी के लिए या तो इन

डिवाइसेज से दूर रहने की कोशिश करें या निजी बातचीत के दौरान इन्हें अनप्लग करने के साथ ही

स्मार्टफोन पर गूगल असिस्टेंट को डिसेबल कर दें। माइएक्टिवटी.गूगल.कॉम पर जाकर

अपर राइट कॉर्नर में 3 डॉट्स पर क्लिक करें। उसके बाद डिलीट एक्टिवटी को और

फिर जिन एंट्रीज को डिलीट करना हो, उनकी डेट रेंज को चुनें-टुडे, यस्टरडे, लास्ट 7 डेज, लास्ट 30 डेज, ऑल टाइम या कस्टम

Smart Speakers’ Spying Worries Consumers

इसके बाद ऑल प्रॉडक्ट्स वॉइस एंड ऑडियो डिलीट के जरिए नेविगेट करें।

स्मार्ट असिस्टेंट के माइक्रोफोन के जरिए कोई भी आपकी बात न सुने, इसका सबसे आसान तरीका है

डिवाइस को म्यूट करना। इसके लिए गूगल होम डिवाइस के बैक में सबसे ऊपर की तरफ म्यूट बटन होता है।

गूगल होम एप को ओपन करके उस डिवाइस को चूज करें, जिससे आप मैनेज करना चाहते हैं।

अब डिवाइस इन्फो में पहले सेटिंग्स और फिर एक्सेसिबिलिटी को टैप करने पर दो ऑप्शंस मिलेंगे

प्ले स्टार्ट साउंड और प्ले एंड साउंड। इन दोनों को टर्न ऑन करने से आपको रिकॉर्डिंग

सेशन शुरू और खत्म करने के समय का सबसे सही आइडिया मिलेगा।

Alexa के लिए कुछ जरुरी टिप्स

दोस्तों Alexa के साथ कॉन्टेक्ट्स को लिंक करने के बाद ही समस्याएं खड़ी होती हैं। इसलिए आप अपने कॉन्टेक्ट्स को

ऑटोमेटिकली एड न करें, चाहे एप इसकी मांग ही क्यों न कर रहा हो। अगर Alexa आपके कॉन्टेक्ट्स

के बारे में नहीं जानता, तो उसकी मदद से कॉन्टेक्ट्स को वॉइस रिकॉर्डिंग्स भेजने में कोई खतरा नहीं होगा।

यदि कोई यूजर, कॉन्टेक्ट्स को पहले ही लिंक कर चुका है, तो उन्हें रिमूव करना उसके लिए उतना आसान नहीं होता।

इसके लिए संबंधित यूजर को अमेजन कस्टमर सर्विस पर कॉल करके सर्विस रिमूव करने का आग्रह करना होगा।

वॉइस परचेजिंग के लिए एक पिन एड करें या वॉइस परचेजिंग को पूरी तरह टर्न ऑफ कर दें।

आपकी प्राइवेसी में सेंध लगा रहे हैं ये स्मार्ट होम स्पीकर्स

अगर अमेजन स्टफ को ऑर्डर करने से बचने के लिए एप की सेटिंग्स पर जाएं। वॉइस ऑर्डरिंग डिफॉल्ट से इनेबल होती है।

आपके एलेक्सा डिवाइस में ड्रॉप इन फीचर को इनेबल करने से ऐसे लोगों को डिवाइस के माइक व स्पीकर को एक्सेस

करके इंटरकॉम सिस्टम की तरह काम में लेने का मौका मिल जाएगा जिनके पास ड्रॉप इन परमिशन्स हैं

चाहे वे दूसरे कमरे या दूसरे मकान या दूसरे शहर में ही क्यों न हों। इतना ही नहीं

वे आपके कमरे की आवाजें भी सुन सकते हैं।

ताज़ा न्यूज़ अपडेट और अधिक जानकारी के लिए जुड़े रहे हमारे साथ और आपको हमारी पोस्ट कैसेलागी हमे  जरुर बताये और साथ ही हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करे